शाहजहांपुर विषकन्या गिरफ्तार – स्वामी ओम, हिन्दू संगठनों ने जताई खुशी

Sunil Misra New Delhi :–  स्वामी चिन्मयानंद के ऊपर रेप का इल्ज़ाम लगाने वाली साज़िशकर्ता काजल पुलिस की गिरफ्त में आ चुकी है धर्मरक्षक श्री दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन की अध्यक्षता में हुई हिन्दू संगठनों की बैठक में स्वामी चिन्मयानन्द को हनी ट्रेप में फंसाकर उनसे रंगदारी वसूल करने की मुख्य साजिशकर्ता विषकन्या काजल की विशेष जांच दल द्वारा गिरफ्तारी पर खुशी जतायी गयी।
बैठक में सभी हिन्दू संगठनों ने बिग बोस के सुपर हीरो और हिन्दुत्व के सच्चे प्रहरी स्वामी ओम जी का माल्यार्पण करके विशेष अभिनन्दन किया। इस अवसर पर श्री मुकेश जैन ने कहा कि स्वामी ओम जी ने सही वक्त पर शाहजहांपुर जाकर प्रेस वार्ता करके हिन्दू सन्त स्वामी चिन्मयानन्द जी को बिना साक्ष्य सबूत के बदनाम करने वाले आतंकवादियों के गिरोहों के टुकड़ों पर पल रहे देशद्रोही मीडिया को जिस प्रकार से लताड़ा वह सराहनीय है।

बैठक में स्वामी ओम जी ने उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ और विशेष जांच दल के प्रमुख श्री नवीन अरोड़ा की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिस प्रकार से विशेष जांच दल ने 164 क के तहत किये लड़की के मैडिकल परीक्षण और उसकी योनि के आन्तरिक डीएनए परीक्षण में स्वामी चिन्मयानन्द के खिलाफ कोई भी सबूत न पाने की घोषणा की वह अपने आप मे हिम्मत का काम है। क्योंकि जिस प्रकार से हिन्दुत्व विरोधी देशद्रोही मीडिया अपने सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की शह पाकर स्वामी चिन्मयानन्द को जबरदस्त तरीकों से बदनाम करके बिना किसी साक्ष्य सबूत के गिरफ्तार करने की मांग कर रहा था, ऐसे वक्त में सच्चाई का साथ देना श्री नवीन अरोड़ा की बहादुरी ही है। पंडिंत राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां और ठाकुर रोशन लाल की भूमि के इस नये बहादुर नवीन अरोड़ा को मैं ही नहीं हम सब हिन्दू संगठन प्रणाम करते हैं।

बैठक में सभी हिन्दू संगठनों ने मांग की कि अब वक्त की मांग है कि सन्त शिरोमणी आसा राम बापू, बाबा राम रहिम, सन्त रामपाल, श्री नारायण प्रेम साईं, फलाहारी बाबा, आशू महाराज, ओडिशा के सारथी महाराज सहित सभी हिन्दू सन्तों को तत्काल रिहा किया जाये क्यों कि धारा 164क के तहत हुए मैडिकल परीक्षण में किसी भी हिन्दू सन्त पर बलात्कार की पुष्टी नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.