पीजीआई में शुरू होगा 3 साल का इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी डीएम कोर्स, उत्तर भारत में अपनी तरह का यह पहला कोर्स

Last Updated on

पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट फॉर मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च में इस साल से 3 साल का इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी का डीएम कोर्स शुरू होने जा रहा है। 1 जुलाई से शुरू होने वाले कोर्स में सिर्फ 2 सीटें होंगी और इसके लिए नेशनल लेवल का एंट्रेंस टेस्ट कंडक्ट कराया जाएगा।रेडियोडायग्नोसिस डिपार्टमेंट के हेड प्रो. एम एस संधू ने बताया कि यह उत्तर भारत में अपनी तरह का पहला कोर्स है। इसी तरह का पोस्ट टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल मुंबई में कराया जाता है। प्रो संधू ने बताया कि इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी एक रेडियोलॉजी की ही महत्वपूर्ण सब स्पेशलिटी है जिसमें बहुत कम एनेस्थीसिया और इनवेंसिव प्रोसीजर के मरीज का इलाज संभव है। डिपार्टमेंट पिछले 2 साल से से इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी ट्रीटमेंट दे रहा है और यह सेवा देने वाला वह एकमात्र हॉस्पिटल है। इंटरनेशनल टेक्नोलॉजी के जरिए पीजीआई में अब कैंसर का इलाज संभव है।इसके जरिए सीधा कैंसर की एक्यूरेट पोजीशन या कैंसर को सप्लाई कर रही ब्लड वेसल को एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड या सीटी गाइडेंस से ट्रीट किया जाता है। यह इलाज ऑनकैंसर मरीजों के लिए महत्वपूर्ण है, जिनका किसी तकनीकीकारण से ऑपरेशन नहीं होसकता यह जिनको हार्ट सहित अन्य कोई बीमारियां हैं। ऐसे लोगों के लिए यह इजाल काफी महत्वपूर्ण और लाभदायक होगा। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

PGI will start a 3-year Interventional Radiology DM course, the first of its kind in North India

Go to Source

%d bloggers like this: