अब The “Great” विराट कहिए जनाब

7 दोहरा शतक एक “विराट” इसके साथ ही कोहली बन गए सचिन और वीरेंदर सहवाग से बड़े क्रिकेटर बन गए। 11 अक्टूबर को जैसे ही दक्षिण विराट कोहली ने सचिन तेंडुलकर और वीरेंदर सहवाग के भारतीय रेकॉर्ड को तोड़ा वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। शुक्रवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ पुणे में खेले जा रहे टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय कप्तान ने अपने टेस्ट करियर का 7वां दोहरा शतक लगाया। इसके साथ ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 7000 रन भी पूरे कर लिए।

यह मुकाम कोहली ने अपने 81वें टेस्ट मैच की 138वीं पारी में  हासिल किया। इससे पहले सचिन तेंडुलकर 200 टेस्ट मैचों की 329 पारियों और वीरेंदर सहवाग ने 104 टेस्ट मैचों की 180 पारियों में 6-6 दोहरे शतक लगाए हैं।
टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने का रेकॉर्ड ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज डॉन ब्रैडमैन के नाम है। ब्रैडमैन ने 52 टेस्ट मैचों में 12 दोहरे शतक लगाए थे। श्रीलंका के कुमार संगाकारा ने 11 और ब्रायन लारा ने 9 दोहरे शतक लगाए थे। इंग्लैंड के दिग्गज बल्लेबाज वॉली हेमंड ने 85 टेस्ट मैचों में 7 और जयवर्धने ने 149 टेस्ट मैचों में 7 दोहरे शतक लगाए हैं।

कोहली ने इसके साथ ही टेस्ट क्रिकेट में अपने 7000 रन भी पूरे कर लिए। उन्होंने 138 पारियों में यह मुकाम हासिल किया। वह सबसे कम मैचों में यहां पहुंचने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। भारत की ओर से वीरेंदर सहवाग ने 134 और सचिन तेंडुलकर ने 136 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी।

विराट कोहली ने बतौर कप्तान टेस्ट क्रिकेट में 9वीं बार 150 का आंकड़ा पार किया। ब्रैडमैन ने 8 बार कप्तान के रूप में 150+ का आंकड़ा पार किया था। इसके साथ ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में कुल रन (6996) को पीछे छोड़ा। ब्रायन लारा, महेला जयवर्धने, ग्रीम स्मिथ और माइकल क्लार्क ने 7 बार ऐसा किया है।

2 thoughts on “अब The “Great” विराट कहिए जनाब

Leave a Reply

Your email address will not be published.