नया भारतीय मानचित्र – 2019 जारी जिसमे PoK भी शामिल

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल जीसी मुर्मू और  लद्दाख के उपराज्यपाल आरके माथुर बनाए गए

Sunil Misra New Delhi –  भारत में लोकसभा चुनाव के बाद काफी उठा पटक का माहौल रहा इसी सिलसिले में एक सबसे महत्वपूर्ण बदलाव देखने को मिला जो की था अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35A I जो कि संसद की सिफारिश पर भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अगस्त 2019 महीने में भारतीय संविधान से इन दोनों अनुच्छेद-370 और अनुच्छेद 35 A को प्रभावी रूप से खत्म कर दिया था. जिसके बाद 31 अक्टूबर को एक राज्य के रूप में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अस्तित्व में नहीं रह गया और ये दोनों राज्य जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख आधिकारिक तौर पर दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित हो गया.
जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के अलग केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद भारत सरकार ने शनिवार को देश का नया मानचित्र जारी किया है. जिसमें 28 राज्यों और नौ केंद्र शासित प्रदेशों को दर्शाया गया है. इस नक्शे में पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के हिस्सों को भी कश्मीर क्षेत्र में दर्शाया गया है. नए जारी किए नक्शे में जम्मू-कश्मीर के पूर्ववर्ती राज्य के विभाजन को दर्शाया गया है. इसमें आश्चर्यजनक रूप से पीओके के तीन जिलों मुजफ्फराबाद, पंच और मीरपुर को शामिल किया गया है. लद्दाख में दो जिले कारगिल और लेह शामिल हैं, जबकि जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में 20 जिले शामिल किए गए हैं.
इस आदेश को जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन आदेश-2019 का नाम देते हुए कहा गया है. कि इस गजट अधिसूचना में सरकार ने कारगिल के वर्तमान क्षेत्र को छोड़कर लेह जिले के क्षेत्रों गिलगिट, गिलगित वजारत, चिलास, जनजातीय क्षेत्र, लेह और लद्दाख को भी कंपाइल किया है.
आपको जानकारी दे दे कि सन 1947 में जम्मू-कश्मीर राज्य में कुल 14 जिले हुआ करते थे. इनमें कठुआ, जम्मू, उधमपुर, रियासी, अनंतनाग, बारामूला, पुंछ, मीरपुर, मुजफ्फराबाद, लेह और लद्दाख, गिलगित, गिलगित वजरात, चिल्हास और जनजातीय क्षेत्र शामिल थे. और केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के मानचित्र में 20 जिले शामिल हैं, जिसमें मुजफ्फराबाद, मीरपुर और पुंछ के वे क्षेत्र शामिल हैं, जो पीओके के अधीन हैं.
गौरतलब है कि दोनों केंद्र शासित प्रदेश 31 अक्टूबर को आधी रात से अस्तित्व में आ गए. जम्मू-कश्मीर के पहले उपराज्यपाल जीसी मुर्मू और आरके माथुर लद्दाख के प्रथम उपराज्यपाल बने है

One thought on “नया भारतीय मानचित्र – 2019 जारी जिसमे PoK भी शामिल”

Leave a Reply

Your email address will not be published.