पूर्व डीजीपी केपी सिंह की जिप्सी को रस्से से खींच डीजीपी ने दिया सम्मान, आईपीएस केके मिश्रा नहीं आ पाए

Last Updated on

प्रदेश के डीजी रैंक के दो सीनियर आईपीएस अफसर सोमवार को रिटायर हो गए। पूर्व डीजीपी रहे केपी सिंह को विदाई को यादगार बनाने के लिए पुलिस अकादमी मधुबन में कार्यक्रम हुआ। डीजीपी मनोज यादव समेत कई सीनियर आईपीएस पूर्व डीजीपी सिंह की जिप्सी को रस्से से खींच दरवाजे तक ले गए। यह परंपरा दशकों अंग्रेजों के वक्त से है। वे अफसर के प्रति स्नेह प्रकट करते हैं। विदाई परेड की गई।रिटायर हुए पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन के एमडी एवं डीजी रैंक के आईपीएस केके मिश्रा ने कार्यक्रम से दूरी बनाए रखी। उनका कहना है कि कोरोना काल में भीड़ ठीक नहीं है। उन्होंने पुलिस हेड क्वार्टर पर चाय पार्टी की व वीसी से फील्ड अफसरों से बातचीत की है। बता दें कि दो सीनियर अफसर और रिटायर होने वाले हैं। इनमें एक सीआईडी चीफ एडीजीपी अनिल राव हैं। 1994 बैच के आईपीएस राव 31 जुलाई को रिटायर होंगे। अभी से इस पद के लिए कयास शुरू हो गए हैं। इनके अलावा सीनियर आईपीएस एवं डीजी रैक के अफसर पीआर देव 30 सितंबर को रिटायर हो जाएंगे। अभी वे होम गार्ड डीजी हैं। जाट आरक्षण आंदोलन के बीच में डीजीपी बने थे सिंहकेपी सिंह फिलहाल स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के डीजी थे, केके मिश्रा हरियाणा पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन के एमडी। सिंह 1985 तो मिश्रा 1987 बैच के आईपीएस हैं। केपी सिंह प्रदेश के डीजीपी रहे हैं, लेकिन जाट आरक्षण आंदोलन के बीच उन्हें इस पद पर तैनात किया था। परंतु आंदोलन के बाद हटा गया। वर्तमान डीजीपी मनोज यादव की नियुक्ति से पहले भी कुछ दिन वे कार्यकारी डीजीपी रहे।10 आईपीएस के तबादले, अग्रवाल होंगे डीजी विजिलेंस, डीजी क्राइम बने अकीलसरकार ने 10 आईपीएस और एक एचपीएस को तबादला किया है। केपी सिंह की जगह डीजी क्राइम पीके अग्रवाल को लगाया है। एडीजीपी हेड क्वार्टर मोहम्मद अकील को प्रमोट कर डीजीपी क्राइम का चार्ज दिया है। उनके पास एससीआरबी मधुबन के निदेशक का चार्ज भी रहेगा।एडीजीपी साउथ रेंज रेवाड़ी आरसी मिश्रा को भी डीजीपी बनाया है। उन्हें हरियाणा पुलिस हाउसिंग कॉर्पोरेशन के साथ एफएसएल मधुबन का चार्ज दिया है। एपीए मुधबन के एसपी कृष्ण मुरारी को पीटीसी सुनारिया के एसपी का चार्ज भी दिया है। एचपीएस संजय अहलावत को फर्स्ट आईआरबी भोंडसी से कमांडेंट आईआरबी भोंडसी लगाया है।Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

विदाई समारोह के दौरान रस्से से गाड़ी खींचते डीजीपी मनोज समेत अन्य अधिकारी।

Go to Source

%d bloggers like this: