तेजस विमान खरीद पर CDS रावत ने जताई खुशी, बोले – स्वदेशी रक्षा उपकरणों से घुसपैठ कर रहे दुश्मनों को खदेड़ना हमारा मुख्य उद्देश्य

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। LCA तेजस लड़ाकू की खरीद मंजूरी मिलने पर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि हमारा जोर स्वदेशी और आत्मनिर्भर भारत पर है। हमें उम्मीद है कि हमारी वायु सेना बहादुरी के साथ आसमान को छूएगी। इसमें से यह प्रमुख घटक विमान शामिल हैं जो कि स्वदेशी हैं। रावत ने कहा कि उनका मुख्य उद्देश्य स्वदेशी रक्षा उपकरण के जरिए घुसपैठ कर रहे दुश्मनों को सीमा पर से खदेड़ना है।

Our ultimate objective is to engage in and win future conflicts with home-made solutions: Chief of Defence Staff General Bipin Rawat https://t.co/kY3rWMmYn5
— ANI (@ANI) January 13, 2021
बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता वाली सीसीएस ने बुधवार को भारतीय वायुसेना के बेड़े के 83 अतिरिक्त स्वदेशी एडवांस तेजस जेट के लिए लगभग 48,000 करोड़ रुपये के सबसे बड़े स्वदेशी रक्षा खरीद सौदे को मंजूरी दे दी। यह सौदा भारतीय रक्षा विनिर्माण में आत्मनिर्भरता के लिए एक गेम-चेंजर होगा। 

भारतीय वायुसेना के पास 123 एडवांस तेजस जेट हो जाएंगे
बता दें कि रक्षा मंत्रालय ने 40 तेजस जेट की खरीद को पहले ही मंजूरी दे दी है। यानि कि अब देश के पास कुल 123 एडवांस तेजस जेट हो जाएंगे। इन 123 जेट के अतिरिक्त भारत 170 तेजस Mark-2 की खरीद को मंजूरी देने पर विचार कर रहा है, जो कि पॉवरफुल इंजन और एडवांस टेक्नोलॉजी से बना होगा।

रक्षा मंत्री ने सोशल मीडिया पर दी जानकारी
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा, ‘ये डील देश के लिए गेम चेंजर साबित होगी। रक्षा के क्षेत्र में मैन्युफैक्चरिंग को मजबूती मिलेगी। ये सभी फाइटर जेट हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) तैयार करेगी। लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) 1A तेजस फाइटर तैयार करने के लिए HAL ने नासिक और बेंगलुरु में सेटअप तैयार कर लिया है।

तेजस 60% स्वदेशी होगा
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि LCA तेजस के MK1A वैरिएंट में 50% की बजाय 60% स्वदेशी उपकरण और तकनीक का यूज किया जाएगा। LCA तेजस इंडियन एयरफोर्स फ्लीट की रीढ़ की हड्‌डी बनने जा रही है। इससे एयरफोर्स की मौजूदा ताकत में जबरदस्त इजाफा होगा।

तेजस स्वदेशी चौथी पीढ़ी का टेललेस कंपाउंड डेल्टा विंग विमान है। यह फ्लाई बाय वायर फ्लाइट कंट्रोल सिस्टम, इंटीग्रेटेड डिजिटल एवियोनिक्स, मल्टीमॉड रडार से लैस लड़ाकू विमान है और इसकी संरचना कंपोजिट मैटेरियल से बनी है। तेजस चौथी पीढ़ी के सुपरसोनिक लड़ाकू विमानों के समूह में सबसे हल्का और सबसे छोटा है।
.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News…..CDS Rawat expressed happiness over the purchase of Tejas aircraft. ..
Go to Source