अनुच्छेद 370 से अलगाववाद और आतंकवाद को मिलता था बढ़ावा

Netvani Desk : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के निर्णय को जम्मू-कश्मीर की जनता के लिये न्यायोचित बताते हुये कहा कि इस अनुच्छेद के कारण जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद और अलगाववाद को बढ़ावा मिलता था .

जावड़ेकर ने आज यहां भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर कहा अनुच्छेद 370 हटाये जाने से जम्मू-कश्मीर के नागरिकों को देश के अन्य राज्यों के नागरिकों के समान अधिकार मिलेंगे। उन्होंने दावा किया कि भविष्य में जम्मू-कश्मीर में विकास की इबारत लिखी जाएगी .

केंद्रीय मंत्री श्री जावड़ेकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार के 75 दिनों के कार्यकाल की तुलना प्रमुख विपक्षी राजनीतिक दल कांग्रेस के कार्यकाल से करते हुये कहा कि जहां केंद्र सरकार ने 75 दिनों में 75 से ज्यादा निर्णय लेकर देश को विकास की गति दी है, वहीं कांग्रेस 75 दिनों तक बगैर अध्यक्ष के चलती रही . अंततः श्रीमती सोनिया गांधी को ही अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया .

जावडेकर ने कांग्रेस पर बगैर रीति-नीति वाले राजनीतिक दल होने का आरोप लगाते हुये कहा कि 70 वर्षों तक कांग्रेस जम्मू-कश्मीर की आवाम को अनुच्छेद 370 के बंधन से मुक्ति देने में विफल रही और आज भी इस मुद्दे पर पार्टी दोफाड़ नजर आ रही है .जावड़ेकर ने कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं के अनुच्छेद 370 के पक्ष में बयान देने का जिक्र करते हुये कहा कि देशहितैषी निर्णयों पर भी कांग्रेस एकमत नजर नहीं आती .

Leave a Reply

Your email address will not be published.