करनाल के अस्पताल में 4 डॉक्टर, 5 मेडिकल स्टाफ सदस्य और सोनीपत की फैक्ट्री में 25 लोगों समेत 387 नए मरीज, 4 की मौत

Last Updated on

देश में बुधवार से अनलॉक-2 शुरू होगा। इसमें कुछ छूट बढ़ाई गई हैं। लेकिन लोगों को अब और सतर्क रहने की जरूरत है। क्योंकि अनलॉक-1 में प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ा है। अनलॉक के एक माह में करीब 7 गुना मरीज और करीब 11 गुना मौतें बढ़ी हैं। राज्य में पहला मरीज 17 मार्च को मिला था। पहले 15 दिन में सिर्फ 29 मरीज मिले थे। मौत भी कोई नहीं हुई थी। इसके बाद लॉकडाउन में अप्रैल में 314 मरीज मिले और 4 मौतें हुईं।मई में 1802 मरीज मिलने के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 2145 तक पहुंचा और 22 लोगों की जान चली गई। 31 मई को लॉकडाउन खत्म हुआ। जून के एक माह में जैसे ही अनलॉक-1 शुरू हुआ, संक्रमण तेजी से बढ़ा। राज्य में इस एक माह 12595 नए मरीज मिले और 218 की मौत हो गई। मंगलवार को एक दिन में 387 नए मरीज मिले। करनाल के एक प्राइवेट अस्पताल में 4 डॉक्टर व 5 स्टाफ सदस्य संक्रमित मिले। जबकि सोनीपत के राई क्षेत्र की एक फैक्ट्री में 25 लोग पॉजिटिव मिले। कुल संक्रमितों की संख्या 14,739 हो गई है।पिछले 24 घंटे में 470 ठीक होकर घर लौटे। इससे रिकवरी दर 67.65% हो गई है। अब तक 9,972 मरीज ठीक हो चुके हैं। चार और लोगों की मौत हुई है। फरीदाबाद में 2, गुड़गांव, पलवल में 1-1 की जान गई है। इससे मरने वालों की संख्या 240 हो गई है।करनाल में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैंजून में सबसे ज्यादा केस आए हैं। मंगलवार को अमृतधारा अस्पताल के 4 डाॅक्टर और पांच स्टाफ सदस्य समेत जिले में 20 नए पॉजिटिव केस आए हैं। अस्पताल में ओपीडी और एमरजेंसी को बंद कर दिया है। डाॅक्टर और स्टाफ कैसे संक्रमित हुआ इसका सोर्स का फिलहाल पता नहीं चला है। डॉक्टर किसी मरीज के संपर्क में आए हैं या किसी डाॅक्टर कीट्रेवल हिस्ट्री है इसका पतालगाया जा रहा है।सेक्टर-7, सेक्टर-13 की चेन के कारण भी केस लगातार बढ़ रहे हैं। तीनों जगह आज भी एक-एक केस आया। सीएमओ डाॅ. अश्विनी आहुजा ने बताया कि अमृतधारा अस्तपताल में 9 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसमें से चार डाॅक्टर और पांच स्टाफ के सदस्य शामिल हैं।सुबह ही स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों की टीम अस्पताल में पहुंच गई थी। एमरजेंसी और ओपीडी को बंद करवा दिया है। अस्पताल से मरीज और स्टाफ के करीब 70 सैंपल लिए हैं। इनकी बुधवार को रिपोर्ट आएगी। जब तक रिपोर्ट नहीं आती नए पेशेंट अटेंड नहीं करेंगे। पूरे अस्पताल को सेनिटाइज करवाया जाएगा। मरीजों को भी दूसरी जगह शिफ्ट किया जा सकता है।जो भी व्यक्ति बिना मास्क के घर से बाहर निकलेगा, उसका 500 का चालान किया जाएगा : डीसीडीसी निशांत कुमार यादव बताया कि जिले में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से संदिग्ध कुल 18124 व्यक्तियों के सेंपल लिए गए हैं, जबकि इनमें से 17581 की रिपोर्ट निगेटिव आई है तथा 311 मामले पॉजिटिव हैं, जिनमें से 6 की मृत्यु हो गई है, 92 एक्टिव है और 213 मरीज ठीक होकर अपने घर चले गए हैं। डीसी निशांत कुमार यादव ने कहा कि जरूरी कार्य के लिए ही बाहर निकलें, मास्क का प्रयोग करें, सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें और अपने आपको निरंतर सेनिटाइजिंग करते रहें।उन्होंने स्पष्ट किया कि कोरोना वायरस के बढ़ते केसों के दृष्टिगत प्रशासन सख्त है। जो व्यक्ति बिना मास्क के घर से बाहर निकलेगा, उसका 500 रुपए का चालान किया जाएगा। डीसी ने नागरिकों से अपील की है कि उनके आसपास कोई ऐसा व्यक्ति मिले जिसकी ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की है वह तुरंत इसकी सूचना प्रशासन को दें, ताकि उसके स्वास्थ्य की जांच की जा सके और लक्षण पाए जाने पर कोविड-19 का टेस्ट किया जा सके।उन्होंने बताया कि सरकार के दिशा-निर्देशानुसार प्रशासन ने निर्णय लिया है कि जिन लोगों में कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं पाए जाते हैं, उन्हें अस्पताल में रखने की बजाए नीलोखेड़ी के नजदीक स्थित गुरूकुल में स्थापित कि गए कोविड केयर सेंटर में रखा जाता है।महिला कर्मी के संपर्क में आए 7 वर्करों की रिपोर्ट आई निगेटिवनीलोखेड़ी की किसान बस्ती के इसाई मोहल्ले में कोरोना पॉजिटिव महिला गोल मार्केट में स्थित करियाणा की दुकान पर फुल टाइम काम करती थी। दुकान के मालिक को जब महिला के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी मिली तो दुकानदार व दुकान पर काम करने वाले वर्करों का सोमवार को काेरोना टेस्ट करवाया गया।मंगलवार को इस सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। किसान बस्ती के ईसाई मोहल्ले में एक महिला की कोरोना से मौत हो गई थी। इस महिला की दो लड़कियां मुंबई में रहती हैं। यह दोनों लड़कियां अपनी मां से मिलने के लिए मुंबई से नीलोखेड़ी आई। महिला की मौत के बाद ईसाई महिला से पांच लोग कोरोना से संक्रमित पा गए थे।बहलोलपुर में मिली 32 वर्षीय महिला पॉजिटिव, अमृतधारा में है स्टाफ नर्सनिसिंग में मंगलवार को गांव बहलोलपुर में 32 वर्षीय महिला कोरोना पॉजिटिव मिली है। पॉजिटिव महिला कुलदीप कौर करनाल के अमृतधारा अस्पताल में स्टाफ नर्स का कार्य करती है। अमृतधारा अस्पताल में स्टाफ के लोगों की टेस्टिंग के लिए सैंपल लिए थे। इन्हीं सैंपलों में कुलदीप कौर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। स्वास्थ विभाग ने गांव में संपर्क में आने वाले लोगों को होम क्वारेटिंन कर दिया है।गली को कनटेंनमेंट जोन व आस पास की गलियों को बफर जोन घोषित कर दिया है। कुलदीप कौर के परिजनों के सैंपल 2 जुलाई को सीएचसी में आने वाली मोबाइल वैन के जरिए लिए जाएंगे। गौर हो कि निसिंग एरिया में अब 13 केस एक्टिव हैं। अमृतधारा 4 डॉक्टरों सहित पांच स्टाफ के सदस्य कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

करनाल. अमृतधारा अस्पताल के स्टाफ से संक्रमितों की जानकारी लेती स्वास्थ्य विभाग की टीम।

Go to Source

%d bloggers like this: