स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन कार में बनाए गए बंधक

Last Updated on


Sunil Misra New Delhi  :-  रविवार को सत्येंद्र जैन बिजवासन विधानसभा और मटियाला विधानसभा में पुलों का शिलान्यास करने जाते समय लोगो दिल्ली के द्वारका में रविवार को जमकर हंगामा देखने को मिला. यहां पर लोगों ने दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन की कार को बीच सड़क पर रोक दिया और हंगामा करते हुए सत्येंद्र जैन को लगभग आधे घंटे तक कार में बंधक बनाए रखा. गुस्साये लोगों ने नारेबाजी की. यहां के लोग विकास कार्यों में कोताही बरतने और काम न होने से नाराज हैं. बाद में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मंत्री सत्येंद्र जैन की कार को वहां से हटाया. कुछ समय पहले दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक पंकज पुष्कर के साथ मारपीट का मामला सामने आया था. और तिमारपुर में हुई घटना के मुअतबिक तिमारपुर विधानसभा क्षेत्र के नेहरू विहार की राशन की दुकानों पर फूड एंड सप्लाई मंत्री छापा मारने पहुंचे थे. उनके साथ तिमारपुर विधायक भी मौजूद थे. विधायक की ओर से जारी बयान में दावा किया गया है कि राशन दुकान में अनियमितताएं होने के चलते रंगे हाथों पकड़े जाने पर राशन माफिया ने हमला किया था.

इस मामले में विधायक ने तिमारपुर थाने में शिकायत करके पूरे मामले में जांच और कार्रवाई की मांग की है. जांच में अनियमितता मिलने से इसी को लेकर राशन की दुकान चलाने वालों और उनके परिवार वालों ने मारपीट की थी. विधायक ने इस संबंध में तिमारपुर थाने में शिकायत दर्ज कराई है. पंकज पुष्कर को मेडिकल जांच के लिए अरुणा आसफ अली अस्पताल भेजा गया था.
विधायक की ओर से जारी बयान में कहा था, ”सुबह करीब 11.30 बजे तिमारपुर विधानसभा क्षेत्र की राशन की दो दुकानों पर फूड एंड सप्लाई मिनिस्टर इमरान हुसैन का विभागीय जांच का दौरा था.
जांच में खुलेआम अनियमितताएं पाए जाने पर राशन विक्रेता और उसके परिवार वालों द्वारा खुलेआम सभी अधिकारियों और रिकॉर्डिंग के सामने खुलेआम विधायक पंकज पुष्कर और विधायक कार्यालय इंचार्ज देवेश कुमार के ऊपर जबरदस्त हमला हुआ था.’

%d bloggers like this: