रक्षा मंत्री ने सशस्‍त्र बलों के दिग्‍गजों के साथ नियमित रूप से बातचीत करने का आश्‍वासन दिया

 

Netvani ब्यूरो : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार सशस्‍त्र बलों के दिग्‍गजों के साथ नियमित रूप से बातचीत करेगी और उनके मुद्दों पर पूर्ण समर्पण से काम करेगी। आज भूतपूर्व सैनिकों के एक संगठन ‘वेटरंस इंडिया’ द्वारा आयोजित कारगिल विजय दिवस के अवसर उन्‍होंने कहा कि मैं आपके लिए काम करूंगा। मुझे विश्‍वास है कि हम सफल होंगे। रक्षा मंत्री ने कारगिल और इससे पहले हुए युद्धों के दौरान भारतीय सैनिकों द्वारा दिखाई गई वीरता, युद्ध और बलिदान की भावना की प्रशंसा की।
द्रास की अपनी यात्रा का उल्लेख करते हुए उन्‍होंने कारगिल युद्ध के दौरान बहादुर सिपाहियों द्वारा किए गए अदम्‍य साहस और सर्वोच्‍च बलिदान की कहानियों का स्‍मरण करते हुए कहा कि हमारे बहादुर सिपाहियों ने सभी बाधाओं को पार करते हुए दुश्‍मन के साथ बहादुरी से लड़ाई करते हुए एक के बाद एक पर्वत चोटी को अपने कब्‍जे में किया। वे डरना नहीं जानते थे और उन्‍होंने देश की सेवा करते हुए मौत को गले लगा लिया। देश इन बहादुर सपूतों के सम्‍मान में सिर झुकाता है।

पद ग्रहण करने के तुरंत बाद सियाचीन की अपनी यात्रा के बारे में राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय सैनिक निर्णय लेने की प्रक्रिया के केन्‍द्र में बना रहेगा। बालाकोट हमलों के बाद सशस्‍त्र बलों में देश का विश्‍वास और गर्व बढ़ा है। रक्षा मंत्री ने इस अवसर पर शहीद जवानों के परिवार जनों को भी सम्‍मानित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.