एअर इंडिया ने मांगी माफी, हज यात्री अपने सामान के साथ सऊदी अरब से ला सकेंगे ‘जमजम पानी

Netvani Desk : इससे पहले चार जुलाई को एअर इंडिया के जेद्दा कार्यालय की टीम ने कथित रूप से सभी यात्रा एजेंटों को पत्र लिखकर कहा था कि विमान में बदलाव और सीटों की कमी के कारण 15 सितंबर तक ‘आबे जमजम’ (जमजम पानी) से भरे कनस्तरों को विमान संख्या एआई 966 (जेद्दा-हैदराबाद-मुंबई) और एआई 964 (जेद्दा-कोचिन) में ले जाने की अनुमति नहीं होगी।एअर इंडिया ने मंगलवार को कहा कि हज के बाद सऊदी अरब से लौटने वाले हज यात्री अब अपने स्वीकृत सामान के साथ ‘जमजम कुएं’ से लाये गये पवित्र पानी को अपने साथ लेकर आ सकेंगे। ‘जमजम कुआं’ सऊदी अरब के मक्का में स्थित है और कई हज यात्री अपने परिवार और मित्रों के लिये इस कुएं का पवित्र पानी लेकर आते हैं।

इससे पहले चार जुलाई को एअर इंडिया के जेद्दा कार्यालय की टीम ने कथित रूप से सभी यात्रा एजेंटों को पत्र लिखकर कहा था कि विमान में बदलाव और सीटों की कमी के कारण 15 सितंबर तक ‘आबे जमजम’ (जमजम पानी) से भरे कनस्तरों को विमान संख्या एआई 966 (जेद्दा-हैदराबाद-मुंबई) और एआई 964 (जेद्दा-कोचिन) में ले जाने की अनुमति नहीं होगी।एअर इंडिया ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘आबे जमजम से भरे कनस्तरों को विमान संख्या एआई 966 और एआई 964 में नहीं ले जाने से संबंधित निर्देशों के संबंध में हमलोग यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि यात्री अब अपने स्वीकृत सामान के साथ जमजम कनस्तरों को भी साथ ले जा सकते हैं।’

एयरलाइन ने कहा, ‘कृपया इस असुविधा के लिये हमारी खेद स्वीकार करें।’एअर इंडिया की वेबसाइट में कहा गया है कि नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो की ओर से जारी एक नोटिस के अनुसार यात्रियों को अपने हैंड बैग में दवाइयों, डॉक्टर की पर्ची के साथ इन्हेलर और बच्चों के खाने-पीने की सामग्री को छोड़कर 100 मिली से अधिक तरल पदार्थ साथ ले जाने की अनुमति नहीं होगी। वेबसाइट के अनुसार, ‘ये सामान एक लिटर के पारदर्शी बैग में होंगे, जिनकी तय जांच एवं सुरक्षा जांच होगी।’ अब चेक-इन बैग में कितना तरल पदार्थ साथ लाया जा सकता है, इस पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.